Home विपक्ष विशेष राफेल डील पर फ्रेंच पत्रकार ने कांग्रेस के ‘झूठ’ का किया पर्दाफाश

राफेल डील पर फ्रेंच पत्रकार ने कांग्रेस के ‘झूठ’ का किया पर्दाफाश

313
SHARE

राफेल डील पर 10 अक्टूबर को एक फ्रांस की एक वेबसाइट ‘Mediapart’ में फ्रेंच भाषा में एक खबर छपी। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने इसे ‘explosive’ बताते हुए ट्वीट किया कि भारत सरकार ने डसॉल्ट एविएशन पर दबाव डाला था कि वह रिलायंस डिफेंस से करार करे। हालांकि शशि थरूर के इस झूठ की पोल फ्रेंच मैगजीन ‘Le Monde’ के साउथ एशिया कॉरेसपोंडेंट जुलियन बोइसो ने खोल दी। जूलियन ने कहा कि शशि थरूर ने इसका अनुवाद ही गलत किया। इसमें ऑफसेट की बात की गई है, न कि रिलायंस को जबरदस्ती थोपने की। वे जिसे ‘explosive’ कह रहे हैं, उसमें कुछ भी नया नहीं है। क्योंकि डसॉल्ट एवियेशन ने फ्रांसीसी ट्रेड यूनियन्स को मई 2017 में ही यह बता दिया था कि ऑफसेट क्लाउज के कारण नागपुर में संयंत्र के निर्माण किया जाएगा।

दरअसल अफवाह, झूठ और दुष्प्रचार के दम पर राफेल डील को निरस्त करवाने की कुत्सित कोशिश जारी है और इस अंतरराष्ट्रीय साजिश को ‘राहुल गांधी एंड कंपनी’ अंजाम देने में लगी है। यह बात तब और पुख्ता हुई जब एबीपी न्यूज के पत्रकार विकास भदौरिया के 28 सितंबर को ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘’अंतरराष्ट्रीय हथियार कंपनियों, आर्म्स डीलर तथा दो राजनीतिक पार्टियों के नेता अपने लाभ के लिए अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र के तहत मोदी सरकार को बदनाम करने में जुटे हैं, ताकि यह सरकार राफेल डील को निरस्त कर दे।‘’

 

विकास भदौरिया के 29 सितंबर के ट्वीट के अनुसार दो राजनीतिक दलों के पांच नेताओं के साथ हथियार निर्माता और आर्म्स डीलर की बैठक अगस्त के अंत में जर्मनी के हमबर्ग में हुई थी। आपको बता दें कि राहुल गांधी 21 और 22 अगस्त को जर्मनी के हैम्बर्ग में ही थे।

 

राफेल डील पर ‘अंतरराष्ट्रीय साजिश’ को सिलसिलेवार समझिए

30 अगस्त, 2018
राहुल गांधी ने ट्वीट किया था, ”राफेल सौदे पर फ्रांस में जल्द ही धमाका होने वाला है।”

22 सितंबर, 2018
फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद का बयान छपा, ”भारत ने हमें ‘रिलायंस’ का नाम दिया था।”

23 सितंबर, 2018
पाकिस्तान के मंत्री फवाद खान ने राहुल गांधी के ट्वीट को रीट्वीट कर राफेल पर समर्थन किया।

23 सितंबर, 2018
शहजाद पूनावाला ने कहा, ”राफेल डील खत्म करने के लिए लंदन, अमेरिका और जर्मनी में बैठकें हुईं।”

24 सितंबर, 2018
पाकिस्तान के पूर्व मंत्री रहमान मलिक ने कहा, ”मोदी का हारना जरूरी, राहुल गांधी भारत के अगले पीएम होंगे।”

LEAVE A REPLY