Home विपक्ष विशेष एमपी में सत्ता की रेवड़ी खाने को लेकर भिड़े कांग्रेस और सपा-बसपा...

एमपी में सत्ता की रेवड़ी खाने को लेकर भिड़े कांग्रेस और सपा-बसपा विधायक, संकट में कमलनाथ सरकार

578
SHARE

मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार को बने हुए अभी दस दिन भी नहीं हुए हैं कि सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। मध्य प्रदेश में सत्ता की रेवड़ी खाने को लेकर कांग्रेस, सपा-बसपा और निर्दलीय विधायकों में तनातनी हो गई है। गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के सिर्फ 114 विधायक हैं और उसे अपने दम पर पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। जाहिर है कि एमपी की कमलनाथ सरकार सपा-बसपा और निर्दलियों की बैसाखी पर टिकी है। मंत्रिमंडल विस्तार में सिर्फ एक निर्दलीय विधायक को जगह मिली है, सरकार को समर्थन दे रहे बाकी तीन निर्दलीय, सपा के एक और बसपा के दो विधायक नाराज हो गए हैं। इन विधायकों ने एक गोपनीय मीटिंग की है और कमलनाथ सरकार के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंक दिया है। दरअसल कांग्रेस सरकार के सीएम कमलनाथ अपने विधायकों के साथ सत्ता की मलाई खुद खाना चाहते हैं, जबकि उनको समर्थन दे रहे दूसरी पार्टियों के एमएलए भी इसमें अपना हिस्सा मांग रहे हैं। जनता की सेवा के नाम पर सरकार बनाने वाले नेता अब सत्ता की मेवा खाने के लिए आपस में भिड़ गए हैं।

Leave a Reply