Home समाचार मोदी सरकार में बढ़ी नौकरी, IT सेक्टर ने पिछले साल 1.7 लाख...

मोदी सरकार में बढ़ी नौकरी, IT सेक्टर ने पिछले साल 1.7 लाख लोगों को दिया रोजगार

1730
SHARE

भारत में रोजगार के अवसर खुले हुए हैं और आने वाले दिनों में ये मौके और बढ़ेंगे। NASSCOM ने ये दावा करते हुए जानकारी दी है कि भारत में आईटी कंपनियों ने केवल पिछले साल 1.7 लाख नौकरियां दी हैं। आखिरी तिमाही में यानी 2017 के पहले तीन महीनों में ही 50 हजार लोगों को रोजगार मिला है।

इकॉनोमिक टाइम्स की खबर के अनुसार NASSCOM ने उन खबरों को भी खारिज किया है जिसमें बड़े पैमाने पर छंटनी होने का दावा किया जाता रहा है। NASSCOM ने कहा है कि अगले दशक तक IT सेक्टर 20 से 25 लाख नौकरियों के अवसर बनाने जा रहा है।

आर्थिक विशेषज्ञों के अनुमानों को NASSCOM ने तथ्यों से झुठला दिया है। अब तक ये कहा जा रहा था कि मोदी सरकार में नौकरी के अवसर कम हुए हैं। जबकि, सच्चाई कुछ अलग है। दरअसल जिन 1 फीसदी लोगों की नौकरी गयी है उसकी वजह बाजार में स्किल फोर्स की मांग में बदलाव है जो निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है। मगर, कुल मिलाकर IT सेक्टर ने भारत में बड़े पैमाने पर नौकरियां देने का सिलसिला जारी रखा है।

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार 2001 में जहां महज 4.3 लाख लोग IT सेक्टर से जुड़े थे, आज IT कंपनियों से जुड़े लोगों की तादाद बढ़कर 40 लाख हो गयी है। 2025 तक यह संख्या 60 से 65 लाख हो जाने का अनुमान है।

कंपनी से जुड़े लोगों का मानना है कि बाजार की मांग के हिसाब से दक्षता का निर्माण करना बड़ी चुनौती है लेकिन इस काम को किया जा रहा है। आधे से ज्यादा वर्कफोर्स को रीस्किल किया जा चुका है।

दुनिया में IT सेक्टर के बुरे प्रदर्शन के बीच भारत में IT सेक्टर का शानदार प्रदर्शन रहा है। यही वजह है कि भारत के मामले में आर्थिक विशेषज्ञ अनुमान लगाने में विफल रहे हैं। यहां तक कि नोटबंदी के बाद आर्थिक विकास में कमी आने का अनुमान भी अत्यधिक उत्पादन ने गलत साबत कर दिया। एक बार फिर IT सेक्टर ने मोदी की आर्थिक नीतियों को अपने परफॉर्मेंस से सही ठहराया है।

Leave a Reply