Home समाचार प्रधानमंत्री मोदी की इन 5 योजनाओं से बदलेगी केदारनाथ की तस्वीर

प्रधानमंत्री मोदी की इन 5 योजनाओं से बदलेगी केदारनाथ की तस्वीर

1628
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार सुबह केदारनाथ मंदिर पहुंच कर भगवान शिव के दर्शन किए और करीब 20 मिनट तक पूजा-अर्चना की। इस दौरान केदारनाथ मंदिर को भव्य तरीके से सजाया गया। मंदिर में रुद्राभिषेक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां एक जनसभा को भी संबोधित किया और केदारनाथ के भाग्य को खोलने वाली 5 योजनाओं का शिलान्यास भी किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत जय-जय केदार के उद्घोष से की।

जनसभा के शुरुआत में पीएम मोदी ने देशवासियों को दिवाली की शुभकामनाएं और गुजरात के नव वर्ष की भी बधाई दी। अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कहा, “एक वक्त था जब मैं यहां पर ही रहता था, लेकिन शायद प्रभु की इच्छा नहीं थी कि मैं हमेशा यहां पर ही रहूं। आज एक बार फिर बाबा ने मुझे अपनी शरण में बुलाया है ये मेरे लिए सौभाग्य की बात है।”

जनसभा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने केदारनगरी के लिए 5 योजनाओं का शिलान्यास किया। इन योजनाओं के तहत घाटों को सुधारा जाएगा, सड़क का चौड़ीकरण किया जाएगा, भव्य और दिव्य वातावरण का निर्माण होगा, पुरोहितों के लिए थ्री इन वन घर का निर्माण किया जाएगा। पीएम ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “हमारी सरकार गौरीकुंड से केदारनाथ धाम के पैदल ट्रैक को चौड़ा करने का काम करेगी, मंदाकिनी और सरस्वती नदी के तट पर घाट बनाने का काम भी हम कर रहे हैं साथ ही आदि गुरू शंकराचार्य की समाधि का भी पुनर्निर्माण भी होगा।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यू इंडिया का हवाला देते हुए 2022 तक केदारनाथ के पुनर्निर्माण करने की अपील की। आपको बता दें कि 2013 में प्राकृतिक आपदा के कारण केदारनाथ धाम को काफी नुकसान पहुंचा था। उत्तराखंड का केदारनाथ धाम, भारत के चार सबसे अहम धामों में से एक है। इस आपदा में करीब 4500 से ज्यादा लोग मारे गए थे।

अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पर्यावरण को बचाने और वातावरण को स्वच्छ रखने की अपील भी लोगों से की। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले 6 महीने में यह पीएम मोदी की दूसरी केदारनाथ यात्रा है और शनिवार को 6 महीने के लिए केदारनाथ के कपाट बंद हो रहे हैं।

Leave a Reply