Home समाचार प्रधानमंत्री मोदी का विपक्ष पर निशाना- मुंह खोलते ही धड़-धड़ झूठ निकलने...

प्रधानमंत्री मोदी का विपक्ष पर निशाना- मुंह खोलते ही धड़-धड़ झूठ निकलने लगता है

146
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार शाम नमो ऐप के माध्यम से ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’ कार्यक्रम के तहत टीकमगढ़, सीकर, कोटा, कोरबा और बुलंदशहर के भाजपा बूथ कार्यकर्ताओं के साथ सीधा संवाद किया। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के कार्यकर्ताओं से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘विपक्ष झूठ पर झूठ फैलाने में लगा है। जनता को गुमराह करने में जुटा है। कुछ नेता तो झूठ की मशीन की तरह है। जब भी मुंह खोलते हैं धड़ -धड़ झूठ निकलना शुरू हो जाता है। ऐसे में एक कार्यकर्ता होने के नाते आपको विषयों की जानकारी होनी चाहिए, ताकि विपक्ष के झूठ को भी जनता के सामने बेनकाब कर सकें।’

प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत में कहा कि, ‘यह हम सबके लिए गर्व की बात है कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में हमारे देश की रैंकिंग एक वर्ष में 100 से ऊपर चढ़कर 77वें नंबर पर आ गई है। यह टीम इंडिया की वजह से संभव हुआ है। 2014 में हम ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में 142वें नंबर पर थे और आज 2018 में 77वें स्थान पर आ चुके हैं। मात्र 4 साल में 65 अंकों के इस उछाल से स्पष्ट है कि 2014 की तुलना में आज देश करीब-करीब दोगुना बेहतर स्थिति में है।’

उन्होंने कहा कि, ‘हम अपने MSME सेक्टर का सम्मान करते हैं और उस पर भरोसा भी करते हैं। हमारे MSME सेक्टर भारत की विकास गाथा की रीढ़ हैं। सरकारी कंपनियों के लिए ये अनिवार्य कर दिया है कि वे अपनी जरूरत की 25 प्रतिशत चीजें MSME सेक्टर से खरीदें। जिसमें से अब करीब 3% खरीद महिलाओं के स्वामित्व वाले MSME से ही किया जाना है। सभी कंपनियों के लिए GeM प्लेटफॉर्म से जुड़ना अनिवार्य कर दिया है, जहां से सरकारी दफ्तर अपनी जरूरतों का सामान ऑनलाइन खरीद सकते हैं। इसका सबसे अधिक लाभ छोटे कारोबारियों को मिल रहा है, जिनके पास अब बड़े कारोबारियों के बराबर ही समान अवसर उपलब्ध है।’

प्रधानमंत्री ने कहा कि, ‘इंस्पेक्टर राज खत्म करने के लिए हमने यह सुनिश्चित किया गया है कि अब कोई भी अधिकारी किसी MSMEs को अनुचित तरीके से टारगेट न कर पाए। इसके लिए कौन सा इंस्पेक्टर किस कंपनी में जाएगा, इसका फैसला अब कंप्यूटराइज्ड सिस्टम से होगा, वो भी Random Allotment के जरिए।’

प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि, ‘2013-14 में कुल Patents की संख्या लगभग 4000 थी। 2017-18 में इनकी संख्या 13,000 से अधिक हो गई। 2013-14 की तुलना में 2017-18 में हमारा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश यानि FDI पहले से ही दोगुना हो चुका है और यह सिलसिला आगे बढ़ता ही रहेगा। 2014 से पहले हमारे देश में सिर्फ 5 जलमार्ग थे, और उनमें से भी एक ही थोड़ा-बहुत ऑपरेशनल था। आपको यह जानकर प्रसन्नता होगी कि सिर्फ चार साल के भीतर ही हमारी सरकार ने देश में 100 से अधिक नेशनल वॉटरवेज की पहचान करके उन्हें विकसित करने का काम शुरू किया है।’

प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि, ‘हमारी भाजपा सरकारों का विजन है कि हम जो भी करें, समग्रता में करें। हमारी सोच और हमारे काम का तरीका टुकड़े-टुकड़े में नहीं, चीज़ों को पूर्णता से करना है। हमने देश में एजुकेशन सिस्टम को सुधारने के लिए जो भी कदम उठाए हैं, उसमें इसी विचार का प्रवाह है। शिक्षा केवल पुस्तकों को पढ़ने तक ही सीमित नहीं होनी चाहिए, बल्कि शिक्षा ऐसी होनी चाहिए जो व्‍यक्ति के जीवन निर्माण से ले करके समाज की जरूरतों और राष्‍ट्र के निर्माण तक में काम आए।’

LEAVE A REPLY