Home समाचार ‘वन नेशन-वन इलेक्शन’ के जरिए देश के करदाता का पैसा बचाना चाहते...

‘वन नेशन-वन इलेक्शन’ के जरिए देश के करदाता का पैसा बचाना चाहते हैं पीएम मोदी

423
SHARE

‘वन नेशन-वन इलेक्शन’ के मुद्दे पर तथा अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा करने के लिए पीएम मोदी संसद में प्रतिनिधित्व करने वाले सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों के साथ आज बैठक करेंगे।

‘वन नेशन-वन इलेक्शन’ काफी समय से हो रही है चर्चा

देश में पिछले काफी समय से एक साथ विधानसभा और लोकसभा चुनाव कराने को लेकर चर्चा छिड़ी है। इसी बहस को आगे बढ़ाने के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राजनीतिक दलों के प्रमुखों की बैठक बुलाई है।

करदाताओं के पैसा सही जगह हो इस्तेमाल

पीएम मोदी चाहते हैं कि देश में लोकसभा के साथ-साथ सभी राज्यों की विधानसभाओं के चुनाव भी एकसाथ कराए जाएं जिससे धनबल के साथ-साथ जन-बल की भी बचत होगी। एक साथ चुनाव होने से करदाताओं के पैसे बचेंगे और इन पैसों का इस्तेमाल जनता की भलाई के लिए किया जा पाएगा।

विपक्ष नहीं है सहमत

इसके साथ ही यह भी तर्क दिया जा रहा है कि राज्यों में बार-बार विधानसभा चुनाव कराया जाना भारत के विकास के लिए एक बड़ी बाधा है लेकिन विरोधी पीएम मोदी के इन तर्कों से सहमत नहीं हैं। इसलिए कांग्रेस और ममता बनर्जी की तृणमूल समेत कई विपक्षी पार्टियों ने ‘वन नेशन-वन इलेक्शन’ विरोध किया है।

वन नेशन वन इलेक्शन के साथ इन मुद्दों पर भी होगी बात-चीत

इस बैठक में वन नेशन वन इलेक्शन के अलावा भी कई मुद्दों पर बात होगी। 2022 में भारत अपनी आजादी के 75 साल पूरा कर लेगा, इसे मोदी सरकार बड़े रूप में मनाना चाहती है, जिस पर सभी दलों से बात हो सकती है। साथ ही महात्मा गांधी की 150वीं जयंती का जश्न और सदन में कामकाज के सुचारू रूप से चलने को लेकर बैठक में प्रधानमंत्री बात करेंगे।

Leave a Reply