Home पोल खोल आर्म्स डीलर से मिलने दुबई गए हैं राहुल गांधी, सनसनीखेज खुलासा

आर्म्स डीलर से मिलने दुबई गए हैं राहुल गांधी, सनसनीखेज खुलासा

1212
SHARE

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी घोषित तौर पर तो दुबई में काम कर रहे भारतीयों से मिलने गए हैं लेकिन उनका असली मकसद क्या है?, इसका खुलासा भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता ने किया है। भारतीय जनता पार्टी के मुंबई प्रवक्ता सुरेश नखुआ ने सनसनीखेज खुलासा किया है कि राहुल गांधी ने दुबई में आर्म्स डीलर संजय भंडारी से मुलाकात की है।

Image result for sanjay bhandari

नखुआ ने ट्वीट कर आरोप लगाया है कि राहुल गांधी ने दुबई में भारत से फरार आर्म्स डीलर संजय भंडारी से मुलाकात की है। सुरेश नखुआ ने अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट करते हुए दावा किया कि दुबई में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी गुपचुप तरीके से संजय भंडारी से मिले।

दरअसल संजय भंडारी हाई प्रोफाइल आर्म्स कंसल्टैंट है। संजय भंडारी को राहुल गांधी के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा का करीबी माना जाता है। साल 2016 में संजय भंडारी के घर पर छापेमारी हुई थी जिसमें भारतीय रक्षा सौदों के गोपनीय दस्तावेज मिले थे। लेकिन सरकार के हाथ में आने से पहले ही संजय भंडारी नेपाल के रास्ते लंदन फरार हो गया था।

पिछले साल नवंबर में सीबीआई के अंतरिम चीफ एम नागेश्वर राव ने संजय भंडारी के खिलाफ केस बंद करने का आदेश दिया था। ये फैसला सीबीआई ने 13 मार्च 2018 को ही ले लिया था। आपको बता दें आईबी ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि संजय भंडारी के पूर्व कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल से भी रिश्ते थी।

उधर राहुल गांधी ने भी विदेशी धरती पर भी भारत और प्रधानमंत्री पद की मर्यादा का मजाक उड़ाना जारी रखा। दुबई में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि वह यहां अपने ‘मन की बात’ करने नहीं आए हैं, बल्कि लोगों की सुनने आए हैं। ‘हम आपसे बातचीत करना चाहते हैं। मैं यहां अपने ‘मन की बात’ करने नहीं आया, मैं आपके मन की बात सुनने आया हूं। किसी ने यहां कहा कि वह बड़ा आदमी हमसे मिलने आया है। कोई बड़ा आदमी नहीं होता। मैं बिलकुल आप जैसा हूं।’

आंध्र प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले कामगारों से मुखातिब राहुल ने कहा कि जैसे ही हमारी सरकार आएगी, हम आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दे देंगे। 

Leave a Reply