Home पोल खोल ईवीएम पर टीम केजरीवाल का दावा निकला झूठा, बीएमसी उम्मीदवार ने मांगी...

ईवीएम पर टीम केजरीवाल का दावा निकला झूठा, बीएमसी उम्मीदवार ने मांगी माफी

1273
SHARE

पंजाब, गोवा, राजौरी गार्डन चुनाव में मिली हार से ध्यान बंटाने के लिए आम आदमी पार्टी बीएमसी चुनाव के जिस उम्मीदवार को जीरो वोट मिलने को लेकर ईवीएम पर सवाल उठा रही थी, उस उम्मीदवार ने चुनाव आयोग से माफी मांग ली है। मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) चुनाव में श्रीकांत सिरसाट ने दावा किया था कि उसे खुद का भी वोट नहीं मिला था। इस दावे के साथ उसने ईवीएम पर संदेह जताया था। लेकिन चुनाव आयोग ने उसके दावे की पोल खोल दी तो श्रीकांत ने माफी मांगने में ही अपनी भलाई समझी। इससे आम आदमी पार्टी की भी किरकिरी हो रही है।

आम आदमी पार्टी यह कहकर मामले को उछाल रही थी कि यह कैसे हो सकता है कि किसी उम्मीदवार को खुद और पत्नी का भी वोट ना मिले। श्रीकांत सिरसाट साकीनाका इलाके में वार्ड नंबर 164 से उम्मीदवार थे। चुनाव में हार जाने के बाद ईवीएम मशीन में छेड़छाड़ का शक जताते हुए श्रीकांत ने यह कहते हुए सनसनी मचा दी थी उन्हें उनका खुद का, उनकी पत्नी और करीबियों का भी वोट नहीं मिला। उसने फिर से चुनाव कराने की भी मांग की।

श्रीकांत के दावे को आम आदमी पार्टी ने खूब उछाला। आप नेता इसे एक सुनहरा मौका समझ भुनाने में लगे थे लेकिन चुनाव आयोग ने जब पड़ताल की तो पता चला कि उसे जीरो नहीं 44 वोट मिले थे। चुनाव आयोग को जांच में यह भी पता चला कि श्रीकांत का नाम दो पोलिंग बूथ पर दर्ज है। नियम के अनुसार कोई भी व्यक्ति देश भर में कहीं एक ही जगह वोटर कार्ड बनवा सकता है। झूठ बोलकर सनसनी फैलाने वाला श्रीकांत अब इस मामले में भी फंस गया है।

उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और गोवा में हार के बाद आम आदमी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी की ओर से ईवीएम में हैकिंग के दावे किए जा रहे हैं। इन दावों में श्रीकांत वाले मामले का भी जिक्र किया गया था। इसी को लेकर आप नेताओं ने प्रदर्शन भी किया। अब इस खुलासे के बाद कि श्रीकांत को अपने दोनों बूथ पर वोट मिले हैं। उसने तो माफी मांग ली लेकिन इस मुद्दे को तूल देने वालों ने चुप्पी साध ली है।

Leave a Reply