Home समाचार सफल रहा संसद का शीतकालीन सत्र, लोकसभा से 14 और राज्यसभा से...

सफल रहा संसद का शीतकालीन सत्र, लोकसभा से 14 और राज्यसभा से 15 बिल हुए पास

958
SHARE

संसद के शीतकालीन सत्र का सत्रावसान हो गया है। सत्र के आखिरी दिन  कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ‘रेप इन इंडिया’ वाले विवादास्पद बयान पर काफी हंगामा हुआ। हंगामे के दौरान भारतीय जनता पार्टी और दूसरे दलों के नेताओं ने राहुल गांधी के खिलाफ कार्रवाई और उनसे माफी मांगने की मांग की। इस मुद्दे को लेकर काफी देर हंगामा होता है। बाद में सत्र को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। हालांकि संसद का यह शीतकालीन सत्र काफी महत्वपूर्ण रहा और इस सत्र के दौरान नागरिकता संशोधन बिल, 2019 समेत कई महत्वपूर्ण बिल पास हुए। 

संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि शीतकालीन सत्र में लोकसभा ने 14 विधेयक पारित किए और राज्यसभा ने 15 विधेयक पारित किए। इस दौरान उत्पादकता लोकसभा में 116 प्रतिशत रही, वहीं राज्यसभा में 100 प्रतिशत थी। यह सत्र मोदी सरकार के लिए बेहद सफल रहा।

मोदी सरकार अपने एजेंडे में से नागरिकता संशोधन बिल 2019 पास कराने में कामयाब रही, तो इसके अलावा एसीपीजी संशोधन बिल 2019, संविधान संशोधन (126वां) बिल, राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र दिल्ली (अप्राधिकृत कॉलोनी निवासी सम्पत्ति अधिकार मान्यता) विधेयक, 2019 जैसे महत्वपूर्ण बिल भी पास हुए। 

गुरुवार को संविधान संशोधन (126 वां) बिल राज्यसभा में भी पास हो गया है। काफी चर्चा के बाद इस बिल को लेकर मतदान किया गया। बता दें कि पहले ही इस बिल को लोकसभा से मंजूरी मिल गई थी। इस विधेयक में लोकसभा और राज्य विधानसभाओ में अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति समुदायों के आरक्षण को दल साल बढ़ाने का प्रावधान है। फिलहाल आरक्षण 25 जनवरी 2020 को समाप्त हो रहा है। इस बिल के जरिए इसे 25 जनवरी 2030 तक बढ़ाने का प्रावधान है। इतना ही नहीं इस बिल के तहत संसद में एंग्लो इंडियन कोटे के तहत 2 सीटों को खत्म करने का भी बिल में प्रावधान है।

बता दें कि इस बार का शीतकालीन सत्र 18 नवंबर से शुरु हुआ था। शीतकालीन सत्र में इस बार कई मुद्दों को लेकर बहस हुई। 

Leave a Reply