Home समाचार दिल्ली से वाराणसी तक चली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन, यात्रियों को होगा...

दिल्ली से वाराणसी तक चली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन, यात्रियों को होगा नया अनुभव

774
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज देश की पहली स्वदेशी ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह ट्रेन देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन है। इस ट्रेन को दिल्ली से वाराणसी पहुंचने में पौने दस घंटे लगेंगे। देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि एक तरफ भारत है जो विकास का नया आयाम छू रहा है वहीं दूसरी तरफ हमारा पड़ोसी देश है जो आतंकवाद को संरक्षण देने के कारण दुनिया से अलग-थलग पड़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाने से पहले उसका पूरा अवलोकन किया। उन्होंने ट्रेन की बोगियों का निरीक्षण कर यात्रियों की सुरक्षा और सुविधाओं का जायजा लिया। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दिल्ली से वाराणसी तक इस ट्रेन को चलाने का उद्देश्य यात्रियों को नया अनुभव दिलाना है।

मालूम हो कि पहले इस ट्रेन का नाम सेमी हाई स्पीड ट्रेन 18 था जिसे बाद में बदलकर वंदे भारत एक्सप्रेस कर दिया गया। इसलिए इस ट्रेन की सुविधा शताब्दी से भी बेहतर है। जहां तक इस ट्रेन की रफ्तार की है तो इसकी गति सीमा तो 180 किलोमीटर प्रति घंटे की है लेकिन इसे अभी अधिकतम 160 किलोमीटर प्रति घंटे ही चलाया जाएगा।

वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का निर्माण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत किया गया है। कहने का मतलब है कि यह ट्रेन शुद्ध रूप से देश निर्मित है। इस ट्रेन में 16 वातानुकूलित कोच होंगे, जिसमें दो बोगियां एक्जीक्यूटिव क्लास की है और 12 चेयर कार कोच तथा दो ड्राइवर कोच हैं। इस ट्रेन में 1128 यात्री सवार हो पाएंगे। दिल्ली से वाराणसी जाने के लिए जहां वातानुकूलित कुर्सीयान का किराया 1760 रुपए निर्धारित है वहीं एक्जीक्यूटिव क्लास का किराया 3310 रुपए है। वापसी में वातानुकूलित कुर्सीयान का किराया 1700 रुपए और एक्जीक्यूटिव श्रेणी का किराया 3260 रुपए है। जो ट्रेन दिल्ली से चलेगी उसका नंबर 22436 है। वहीं वराणसी से चलने वाली ट्रेन का नंबर 22435 है।

‘वंदे भारत एक्सप्रेस’ ट्रेन का आम लोगों के लिए परिचालन आम लोगों के लिए 17 फरवरी से शुरू हो जाएगा इसके लिए टिकटों की बुकिंग भी शुरू हो गई है। यह ट्रेन नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से सुबह छह बजे चलेगी और दो बजे दिन में वाराणसी पहुंच जाएगी। उसी दिन यह ट्रेन वाराणसी से तीन बजे चलकर रात 11 बजे दिल्ली पहुंच जाएगी। यह ट्रेन सप्ताह में पांचों दिन चलेगी। 17 फरवरी को जब आम लोगों के लिए यह ट्रेन अपने पहले सफर पर निकलेगी तो उस रेल मंत्री पीय़ूष गोयल भी साथ यात्रा करेंगे। यह ट्रेन दिल्ली और वाराणसी के बीच में कानपुर और प्रयागराज में रुकेगी।

Leave a Reply