Home चुनावी हलचल आजतक Exclusive: प्रधानमंत्री मोदी ने इंटरव्यू में दिए तमाम मुद्दों पर बेबाक...

आजतक Exclusive: प्रधानमंत्री मोदी ने इंटरव्यू में दिए तमाम मुद्दों पर बेबाक जवाब, देखिए वीडियो

794
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी में आजतक के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में अर्थव्यवस्था, नोटबंदी, महंगाई, राष्ट्रीय सुरक्षा, ममता बनर्जी से लेकर साध्वी प्रज्ञा तक तमाम मुद्दों पर बेबाक जवाब दिए। कश्मीर को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के ‘इंसानियत, कश्मीरियत और जम्हूरियत’के सिद्धांत पर ही चलने का वचन दोहराया। प्रधानमंत्री मोदी ने भोपाल से साध्वी प्रज्ञा को बीजेपी का टिकट दिए जाने के फैसले पर कहा कि साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ हिन्दू आतंकवाद के आरोप भारत की सदियों पुरानी विरासत को बदनाम करने की दुर्भावनापूर्ण कोशिश थी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘हिन्दू आतंक का नाम देकर भारत की जो हजारों साल की विरासत है उसे बदनाम किया गया। इसे सामने से ललकारना है। जैसे कि उन्होंने चौकीदार को चोर कहा। मैंने चौकीदार बनकर सामने से ललकारा। इनका मुंह तभी बंद होगा।’

इंटरव्यू में प्रधानमंत्री मोदी ने रोजगार सृजन के मामले पर CII और NASSCOM की रिपोर्ट का हवाला दिया। उन्होंने कहा EPFO बताता है कि हर साल 1.25 करोड़ लोग उससे जुड़ रहे हैं। मुद्रा योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इसके तहत 4.25-4.50 करोड़ लोगों को पहली बार बैंक ऋण मिल रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘हमारे चुनाव घोषणापत्र में ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर फोकस है। कृषि सेक्टर में हमें एग्रो-बेस्ड इंडस्ट्री की तरफ वेल्यू एडिशन के साथ आगे बढ़ना होगा। हमारा विकास मॉडल साफ है, हम वैश्विक मानकों के मुताबिक इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा करना चाहते हैं। हम सक्रिय एयरपोर्ट्स की संख्या दुगनी करना चाहते हैं। साथ ही हम किसान की आमदनी दुगनी करना चाहते हैं। हम साधारण लोगों की न्यूनतम जरूरतों को पूरा करना चाहते हैं।’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नोटबंदी काले धन पर कड़ा प्रहार था जो लोगों की सोच में बड़ा परिवर्तन लाया जो ईमानदारी की ओर था। उन्होंने कहा, ‘इससे 1.30 लाख करोड़ का पता चला। 50,000 करोड़ की बेनामी संपत्ति जब्त की गई। 70 साल पहले जो टैक्स दायरा था वो बढ़ कर दुगना हो गया।’ प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनके कार्यकाल में महंगाई का ना बढ़ना मजबूत अर्थव्यवस्था का प्रतीक है। 2014 में यूपीए के सत्ता से बाहर होने में महंगाई दर का ऊंचा होना भी एक अहम कारण था।

देखिए पूरा इंटरव्यू-

सौजन्य-आजतक

Leave a Reply