Home नरेंद्र मोदी विशेष देश ने मजबूर और कमजोर सरकार बनाने के सारे मंसूबों पर पानी...

देश ने मजबूर और कमजोर सरकार बनाने के सारे मंसूबों पर पानी फेर दिया है- प्रधानमंत्री मोदी

653
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार को मध्य प्रदेश के चुनावी दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होंने सीधी और जबलपुर में जनसभाओं को संबोधित किया। सीधी में पीएम मोदी ने कहा, “अब देश का हर चौकीदार जाग चुका है और नए भारत के सपने के साथ आगे बढ़ रहा है। देश ने मजबूर और कमजोर सरकार बनाने के सारे मंसूबों पर पानी फेर दिया है। विशेष तौर पर वे युवा जो पहली बार लोकसभा के चुनाव में वोट डाल रहे हैं, ये हमारे नौजवान 20वीं सदी की सोच के साथ चलने को तैयार नहीं है। ये हमारे नौजवान 21वीं सदी के सपनों को साकार करने वाला भारत चाहते हैं।”

जनता को केंद्र सरकार के कामकाज का ब्योरा देते हुए पीएम मोदी ने कहा, “सीधी सहित पूरा क्षेत्र तो पावर हब रहा है। बिजली के बड़े-बड़े प्रोजेक्ट यहां हैं। आपका यह चौकीदार सौर ऊर्जा पर काम कर रहा है। पूरी दुनिया में सौर ऊर्जा के लिए जो अभियान चल रहा है, उसका एक सेंटर यह पूरा क्षेत्र बनने वाला है। देश के लोगों का जीवन सुधरे, इसके लिए हम काम कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के 84 लाख किसानों के बैंक खातों मे पीएम किसान का पैसा जमा हो जाना चाहिए था, लेकिन यहां की सरकार के असहयोग की वजह से अभी तक किसानों की लिस्ट नहीं मिली है। देशभर में करोड़ों किसानों को यह पैसा मिल गया है। किसानों को सीधी मदद के अलावा हम सिंचाई और भंडारण की भी एक मजबूत व्यवस्था खड़ी कर रहे हैं। आने वाले 5 वर्षों में ग्राम भंडारण योजना बनाने वाले हैं, ताकि गांव के पास ही भंडारण की उचित व्यवस्था किसानों को मिले।”

पीएम मोदी ने कहा, “इसी तरह, आदिवासी परिवार के वन उपज की अच्छी कीमत मिले, इसके प्रयास किए जा रहे हैं। समर्थन मूल्य के दायरे में अब 50 फसलों को लाया गया है। वनधन केंद्र बनाया जा रहा है। वनधन केंद्र से कमाई होगी और जनधन खातों में पैसा जमा होगा। जनधन से वनधन तक आदिवासी भाइयों की चिंता यह चौकीदार कर रहा है।”

जबलपुर में पीएम मोदी ने कहा, “आपके विश्वास के दम पर ही भाजपा ने आतंकवाद और नक्सलवाद से मुक्ति दिलाने का संकल्प लिया है। जब देश हिंसामुक्त होता है, तभी सही विकास हो पाता है। आज पहले की तुलना में दोगुनी गति से रोड, रेल लाइन और एयरपोर्ट बन रहे हैं। यहां भी इस काम को आप अनुभव कर सकते हैं। जबलपुर शहर में स्मार्ट सुविधाओं का निर्माण पूरी निष्ठा से जारी है। जबलपुर एयरपोर्ट हो या फिर रेलवे और हाइवे के तमाम प्रोजेक्ट, पूरे महाकौशल में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। मेडिकल कॉलज हो, घर-घर बिजली पहुंचाने की व्यवस्था हो- सामान्य मानवी का जीवन आसान बनाने की हमने ईमानदार कोशिश की है। सुरक्षा, समृद्धि और सम्मान के संस्कार वाला नया भारत तभी बन पाएगा, जब आप कमल के फूल के सामने बटन दबाएंगे।”

Leave a Reply