Home नरेंद्र मोदी विशेष ‘भारत माता की जय’ नहीं बोलने वालों के ‘हुआ तो हुआ’ के...

‘भारत माता की जय’ नहीं बोलने वालों के ‘हुआ तो हुआ’ के जवाब में जनता कह रही है ‘बहुत हुआ’- प्रधानमंत्री मोदी

952
SHARE

लोकसभा चुनाव 2019 अपने अंतिम पड़ाव पर पहुंच गया है। 19 मई को होने वाले सातवें चरण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर मतदान होगा। आखिरी चरण के चुनाव प्रचार में भारतीय जनता पार्टी तन-मन से जुटी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार को मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और पंजाब के चुनावी दौरे पर हैं। पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश के रतलाम में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावटी कह रहे हैं- ‘हुआ तो हुआ’, लेकिन जनता कह रही है अब बहुत हुआ। ये हमारे संस्कार हैं, ये रतलाम के संस्कार हैं कि हम मां भारती के वंदन से अपना काम शुरू करते हैं। लेकिन हमेशा याद रखिएगा, कांग्रेस को भारत माता की जय से दिक्कत है। उन्हें मुझे गाली देने में खुशी होती है, लेकिन भारत माता की जय नहीं बोल सकते। उन्होंने कहा कि देश गाली भक्ति से चलेगा या राष्ट्रभक्ति से चलेगा। नामदार भाषण की शुरुआत ही गाली से करते हैं। कांग्रेस का नामदार परिवार पिकनिक के लिए देश के युद्धपोत का प्रयोग करता है और जब सवाल उठते हैं तो निर्लज्ज होकर जवाब देते हैं- हुआ तो हुआ।

पीएम मोदी ने कहा, “आपके प्यार और आपके आशीर्वाद के लिए मैं हृदय से आपका बहुत-बहुत आभारी हूं। जब मैं गुजरात में था, तब भी, और बीते 5 वर्ष में प्रधानमंत्री के तौर पर भी- कदम-कदम पर आपने इस सेवक को जमकर समर्थन दिया है। यही प्यार आज भी मैं अनुभव कर पा रहा हूं। मां कालिका और बाबा गढ़ कैलाश के सान्निध्य में आना हमेशा दिव्य अनुभव रहा है। महान क्रांतिवीर चंद्रशेखर आजाद को जन्म देने वाली भूमि को मैं नमन करता हूं।”

पीएम मोदी ने कहा, “देश के फर्स्ट टाइम वोटर का जन्म बीसवीं सदी के अंत में या 21वीं सदी में हुआ है। उन्हें देश का भविष्य तय करने का मौका पहली बार मिल रहा है। और लोग वोट देते होंगे तो उनके दिमाग में 5 साल का हिसाब होगा। लेकिन, जो फर्स्ट टाइम वोटर हैं, उन्हें तो इस शताब्दी के लिए वोट देना है। क्योंकि, उन्हें इसी 21वीं सदी में जिंदगी गुजारनी है। इसलिए, इस सदी का आरंभिक काल मजबूत होना चाहिए, देश मजबूत होना चाहिए, ताकि मेरे फर्स्ट टाइम वोटर की पूरी शताब्दी अच्छी हो जाए। आपने देश के भविष्य को गढ़ने में अपनी ऊंगली का उपयोग किया था, इस भाव के साथ जाना चाहिए।”

पीएम मोदी ने कहा, “इस चुनाव में दो लोग बड़ा विक्रम कर रहे हैं। एक, मेरे सारे नौजवान साथी जो पहली बार वोट दे रहे हैं। दूसरी, मेरी माताएं-बहनें, जिन्होंने निर्णय किया है कि जिस भाई ने बलात्कारियों के लिए फांसी की सजा तय की है, उसे जिताना है। वे माताएं-बहनें तय कर रही हैं कि जिसने हमारे घर में गैस का चूल्हा दिया है, उसे फिर से प्रधानमंत्री बनाना है। उन मां-बहनों ने तय किया है कि जिसने हमारे बच्चों के भविष्य के लिए घर में बिजली पहुंचा दी है, उसको फिर से प्रधानमंत्री बनाना है। इसलिए वोट देने के लिए पूरी ताकत से मेरी माताएं-बहनें बाहर आई हैं। जब माताएं-बहनें आती हैं, तो पॉलिटिकल पंडितों को समझ नहीं आता है कि यह वेव कहां से आया है। हर घर से वेव आया है।”

पीएम मोदी ने कहा, “आपका यह चौकीदार हर आदिवासी, हर किसान, हर गरीब के जीवन को आसान बनाने में जुटा है। किसानों के बैंक खाते में सीधे पैसे पहुंचाए जा रहे हैं। हमने तय किया है कि 23 मई को जब एक बार फिर से मोदी सरकार बनेगी तो पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ सभी किसानों को दिया जाएगा। इस पूरे क्षेत्र में रोड, रेल, और हवाई कनेक्टिविटी सुधरे, इसके लिए हम पूरी ईमानदारी से काम कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी गरीब के वर्तमान के साथ ही सबके भविष्य को सुरक्षित करने के लिए भी काम कर रही है। नए भारत के संकल्पों को पूरा करने के लिए आपको पूरी शक्ति से कमल खिलाना है।”   

Leave a Reply