Home समाचार डेमोक्रेसी, डेमोग्राफी और दिमाग, भारत की अनूठी ताकत: प्रधानमंत्री मोदी

डेमोक्रेसी, डेमोग्राफी और दिमाग, भारत की अनूठी ताकत: प्रधानमंत्री मोदी

273
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमेरिका-भारत रणनीतिक भागीदारी मंच (यूएसआईएसपीएफ) के सदस्यों से मुलाकात के दौरान कहा कि डेमोक्रेसी, डेमोग्राफी और दिमाग भारत की अनूठी ताकत हैं। कारोबार सुगमता की स्थिति में सुधार के लिए सरकार की ओर से उठाए गए कदमों के बारे में बताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि तीन डी- डेमोक्रेसी, डेमोग्राफी और दिमाग भारत की अनूठी ताकत हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को यूएसआईएसपीएफ के सदस्यों से नई दिल्‍ली में मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्‍व यूएसआईएसपीएफ के चैयरमेन जॉन चैंबर्स ने किया। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कारोबार में सुगमता के लिए कॉर्पोरेट टैक्‍स में कमी और श्रम सुधार जैसे सरकारी प्रयासों के बारे में बताया। उन्‍होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य जीवन की सुगमता सुनिश्चित करना है।

प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में विश्‍वास जताने के लिए प्रतिनिधिमंडल की सराहना की। उन्‍होंने देश में विकसित होते स्‍टार्ट-अप इकोसिस्‍टम का जिक्र किया। उन्‍होंने भारतीय युवाओं द्वारा उद्यमिता जोखिम लेने की क्षमता को रेखांकित किया। उन्‍होंने नवाचार की क्षमता को प्रोत्‍साहन देने तथा तकनीक के उपयोग से समस्‍याओं का समाधान ढूंढने के लिए अटल टिंकरिंग लैब और हेकेथॉन जैसी योजनाओं का जिक्र किया।

प्रतिनिधिमंडल ने देश के लिए प्रधानमंत्री मोदी की दृष्टि पर विश्‍वास जताया और कहा कि भारत का अगला पांच वर्ष विश्‍व के अगले 25 वर्षों को पारिभाषित करेगा।

यूएसआईएसपीएफ एक गैर-लाभकारी संगठन है। इसका प्राथमिक उद्देश्‍य आर्थिक विकास, उद्यमिता, रोजगार सृजन और नवाचार के क्षेत्र में भारत-अमेरिका द्विपक्षीय और रणनीतिक भागीदारी को मजबूत करना है।

Leave a Reply