Home समाचार चक्रवात ‘बुलबुल’ ने पश्चिम बंगाल में दी दस्तक, पीएम मोदी ने हालात...

चक्रवात ‘बुलबुल’ ने पश्चिम बंगाल में दी दस्तक, पीएम मोदी ने हालात का लिया जायजा

101
SHARE

चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ शनिवार आधी रात को पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्र में अपनी दस्तक दी। इसके चलते पश्चिम बंगाल में जगह-जगह भारी बारिश हो रही है और तेज हवाएं चल रही हैं। वहीं इसकी गंभीर होने की आशंका को देखते हुए केंद्र सरकार भी बुलबुल पर नजर बनाए हुए है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मौजूदा स्थिति को जानने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से बात की और आपदा की इस घड़ी में राज्य को हर संभव मदद मुहैया कराने का आश्वासन दिया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘ भारत के पूर्वी हिस्सों में चक्रवात की स्थिति और भारी बारिश के मद्देनजर उत्पन्न हुई स्थिति की समीक्षा की। केंद्र ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। मैं हर किसी की सुरक्षा और तंदुरुस्ती की कामना करता हूं।”

भारी बारिश से कई इलाके पानी में डूबे

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार तूफान से पश्चिम बंगाल के उत्‍तरी और दक्षिण चौबीस परगना, पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, हावड़ा, हुगली और कोलकाता जैसे कई स्‍थानों पर पेड़ उखड़ गए जबकि कई मकानों को नुकसान पहुंचा है। तूफान के असर से हुई भारी बारिश से कई इलाके पानी में डूब गए हैं। राहत कार्य पहुंचाने के लिए एनडीआरएफ की टीम लगातार काम कर रही है।

अभी तक दो लोगों की हो चुकी है मौत
मौसम विभाग ने कहा है कि तट से टकराने के बाद चक्रवाती तूफान कमजोर हो सकता है। हालांकि इस दौरान भी 110-120 किमी/घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगीं, इन हवाओं की गति आगे बढ़कर 135 किमी भी हो सकती हैं। वहीं बंगाल और ओडिशा से भारी बारिश की वजह से अभी तक दो लोगों की मौत भी हो चुकी है।

11 नवंबर को भारी बारिश की संभावना
इससे पहले मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने कहा था कि चक्रवाती तूफान बुलबुल की निगरानी की जा रही है और इसके तट से टकराने के संभावित स्थान का आकलन किया जा रहा है। मौसम विभाग पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों पूर्वी मिदनापुर, उत्तर 24 परगना और दक्षिण 24 परगना जिलों में नौ से 11 नवंबर तक भारी बारिश होने की संभावना जता चुका है।

Leave a Reply