Home नरेंद्र मोदी विशेष दुनिया में सैमसंग की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री का भारत में होना...

दुनिया में सैमसंग की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री का भारत में होना गौरव की बात: प्रधानमंत्री मोदी

298
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि नोएडा में सैमसंग के सबसे बड़े मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट के होने से दुनिया में भारत का गौरव और बढ़ेगा। प्रधानमंत्री ने यह बात नोएडा में बनकर तैयार हुई मोबाइल फैक्ट्री के उद्घाटन के अवसर पर कही। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने मिलकर किया। इस अवसर पर मून जे इन ने भारत और कोरिया को आपस में सच्चा दोस्त बताया।

नोएडा, भारत और उत्तर प्रदेश के लिए गर्व का दिन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भारत को मैन्युफैक्चरिंग का वैश्विक हब बनाने की दिशा में यह अवसर बहुत विशेष तो है ही, भारत और कोरिया के संबंधों के लिए भी यह काफी महत्वपूर्ण साबित होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय लोगों के जीवन में सैमसंग ने अपना विशेष स्थान बनाया है और यहां शायद ही मिड्ल क्लास का कोई घर ऐसा होगा जहां कम से कम एक कोरियाई प्रोडक्ट नजर ना आएगा। उन्होंने कहा कि भारत में आज 40 करोड़ लोग स्मार्टफोन, 32 करोड़ लोग ब्रॉड बैंड इस्तेमाल कर रहे हैं और बहुत कम दर पर इंटरनेट डेटा उपलब्ध है। इन सबकी बदौलत आज फास्ट और ट्रांसपैरेंट सर्विस सुनिश्चित हुई है जो देश में हो रही डिजिटल क्रांति का द्योतक है।

भारत-कोरिया सच्चे दोस्त: मून जे इन

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने इस अवसर पर कहा कि सैमसंग के प्रति भारतीयों का जो विश्वास है उसको लेकर वे अपना विशेष आभार जताते हैं। उन्होंने भारत को एक युवा और उद्यमशील देश बताते हुए इस बात का विशेष उल्लेख किया कि यहां की बड़ी आबादी युवाओं की है। उन्होंने कहा कि भारत और कोरिया के बीच लेनदेन का पुराना लंबा इतिहास रहा है और दोनों सच्चे दोस्त हैं जिसका उद्देश्य पूरे एशिया में संपन्नता लाना है।

मेक इन इंडिया को नई उड़ान

करीब पांच हजार करोड़ रुपये में नोएडा के सेक्टर-81 में तैयार हुआ यह प्लांट 35 एकड़ में फैला है। सैमसंग भारत में फिलहाल करीब 6.7 करोड़ स्मार्ट फोन बनाती है। इस प्लांट से यह संख्या बढ़कर 12 करोड़ तक हो जाएगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि इससे भारत के लोगों के एम्पावरमेंट में योगदान मिलेगा और मेक इन इंडिया को गति मिलेगी। गौर करने वाली बात यह भी है कि सैमसंग की नई मोबाइल मौन्युफैक्चरिंग फैक्ट्री से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से करीब 35 हजार लोगों को रोजगार उपलब्ध होगा।

उद्घाटन के लिए मेट्रो से पहुंचे दोनों राष्ट्राध्यक्ष

भारत और कोरिया के आपसी सौहार्द का रंग तब भी दिखा जब प्रधानमंत्री मोदी और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून दिल्ली से नोएडा मेट्रो में सफर करके पहुंचे। मून पहली बार भारत के दौरे पर आए हैं। 

LEAVE A REPLY