Home समाचार स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम आज से शुरू, पुरस्कार के साथ नंबर...

स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम आज से शुरू, पुरस्कार के साथ नंबर भी मिलेंगे

1902
SHARE

स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम आज से शुरू हो रहा है। देश के युवाओं को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के मकसद से केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत इंटर्नशिप योजना की शुरुआत की है। कालेज के छात्र इसमें हिस्सा ले सकते है। इंटर्नशिप के तहत छात्रों को किसी एक गांव में जाकर 100 घंटे तक काम करना होगा। कार्यक्रम का लक्ष्य पूरे देश के लाखों युवाओं को एक आंदोलन के रूप में स्वच्छ भारत मिशन के लिए योगदान देने हेतु प्रोत्साहित करना है।

मन की मान में पीएम मोदी ने की घोषणा
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में युवाओं का आह्वान किया था कि स्वच्छ भारत प्रशिक्षण कार्यक्रम का लाभ लें और स्वच्छता आंदोलन को आगे बढाएं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ‘मैं आपसे एक विशेष इंटर्नशिप के लिए आग्रह कर रहा हूं। सरकार के तीन-चार मंत्रालय ने मिलकर एक स्‍वच्‍छ भारत समर इंटर्नशिप 2018 लॉन्‍च किया है। कॉलेज के छात्र-छात्राएं, एनसीसी के नौजवान, एनएसएस के नौजवान, नेहरू युवा केन्‍द्र के नौजवान जो कुछ करना चाहते हैं, समाज के लिए, देश के लिए और कुछ सीखना चाहते हैं और एक सकारात्मक ऊर्जा को लेकर के समाज में कुछ-न-कुछ कर गुजरने का इरादा रखते हैं, उन सब के लिए अवसर है। इससे स्‍वच्‍छता को भी बल मिलेगा और जब हम 2 अक्‍टूबर से महात्‍मा गांधी की 150वीं जयंती मनाएंगे। उसके कुछ पहले हमें कुछ करने का संतोष मिलेगा और मैं यह भी बता दूं कि जो उत्‍तम से उत्‍तम इंटर्नस होंगे, जो कॉलेज उत्‍तम काम किया होगा, विश्‍वविद्यालय में किया होगा। ऐसे सबको राष्‍ट्रीय स्‍तर पर पुरस्‍कार दिए जाएंगे। इस इंटर्नशिप को सफलतापूर्वक पूरा करने वाले प्रत्येक इंटर्न को ‘स्वच्छ भारत मिशन’ द्वारा एक सर्टिफिकेट दिया जायेगा। इतना ही नहीं, जो इंटर्न इसे अच्छे से पूरा करेंगे, यूजीसी उन्हें दो क्रेडिट प्वाइंट भी देगा।’

तीन महीने का है समर इंटर्नशिप कार्यक्रम
तीन महीने का समर इंटर्नशिप कार्यक्रम 31 जुलाई को समाप्त होगा। प्रशिक्षण अवधि 01 मई, 2018 से 31 जुलाई, 2018 तक निर्धारित की गई है। पंजीकरण के लिए अंतिम तिथि 15 मई है। छात्र www.sbsi.mygov.in पोर्टल के माध्यम से इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के साथ जुड़ सकते हैं। कॉलेजों व विश्वविद्यालयों के छात्रों के अलावा एनवाईकेएस के युवा भी प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए पंजीकरण पंजीकृत हो सकते हैं। कॉलेज स्तर पर नोडल अधिकारी प्रशिक्षण को लागू करने के लिए समन्वय का कार्य करेंगे।

स्वच्छ भारत प्रमाण पत्र
प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत प्रत्येक प्रशिक्षु को एक स्वच्छ भारत प्रमाण पत्र दिया जाएगा जो गांव में कम से कम 100 घंटों के स्वच्छता से संबंधित कार्य पूरा करने में सफल रहता है। इसके अलावे बेहतरीन प्रदर्शन करने वालों को कॉलेज विश्वविद्यालय/जिला,राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार दिया जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कॉलेज तथा विश्वविद्यालय स्तर पर संबंधित निर्देश जारी किया है। राज्यों को कहा गया है कि वे छात्रों को गांव में जाने के लिए सुविधा प्रदान करें ताकि वे श्रमदान और जागरूकता अभियान जैसे स्वच्छता गतिविधियों में हिस्सा ले सकें।

कमाई का भी मौका
इंटर्नशिप में अगर आप सबसे बेहतर इंटर्न बनते हैं तो यूनिवर्सिटी लेवल पर तीन इंटर्न को क्रमश: 30 हजार, 20 हजार और 10 हजार रुपये दिए जाएंगे। अगर राज्य स्तर पर सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले 3 इंटर्न में आपका नाम है तो इसमें आपको सर्टि‍फ‍िकेट तो मिलेगा ही, साथ ही पहले इंटर्न को 50 हजार, दूसरे को 30 हजार और तीसरे को 20 हजार रुपये दिए जाएंगे। यही नहीं, अगर आप नेशनल लेवल पर सबसे बेहतरीन इंटर्न बनेंगे तो पहले वाले को 2 लाख, दूसरे को 1 लाख और तीसरे को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे।

देखिए वीडियो-

Leave a Reply