Home नरेंद्र मोदी विशेष जीएसटी लागू करने के बाद दोबारा सत्ता में लौटने वाले दुनिया के...

जीएसटी लागू करने के बाद दोबारा सत्ता में लौटने वाले दुनिया के पहले प्रधानमंत्री बने नरेन्द्र मोदी

333
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस बार के लोकसभा चुनाव में धमाकेदार वापसी कर अनोका इतिहास रच दिया है। दुनिया में ऐसे हर देश में जहां की सरकार ने जीएसटी यानि वस्तु एवं सेवा कर लागू किया, वो दोबारा सत्ता में लौटकर नहीं आई। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी इस मोर्चे पर भी भाग्यशाली साबित हुए हैं। मोदी सरकार दुनिया की ऐसी पहली सरकार है, जो जीएसटी लागू करने के बाद न सिर्फ सत्ता में दोबारा लौटी है, बल्कि पहले से भी अधिक मजबूती से सत्ता पर काबिज होने वाली है। इससे एक बात और साबित हो गई है कि प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व में देश में जीएसटी को सबसे बेहतरीन तरीके से लागू किया गया, तभी तो व्यापारियों, नागरिकों को कोई दिक्कत नहीं हुई और लोगों ने चुनाव में दिल खोलकर वोट बरसाए हैं।

ऑस्ट्रेलिया, कनाडा समेत कई देशों में जीएसटी वाली सरकारों की करारी हार
दुनिया के अन्य देसों की बत करें तो मलेशिया में संघीय सरकार को जीएसटी लागू करने के बाद हार मिली थी। ऐसा ही हाल न्यूजीलैंड और कनाडा की सरकारों का रहा। ऑस्ट्रेलिया में भी सरकार को इसकी कीमत चुकानी सत्ता से बेदखल हो कर देना पड़ा। दरअसल, इन देशों में कर सुधार कार्यक्रम के बाद वस्तुओं और सेवाओं की कीमतें बढ़ गई, जिसका लोगों में पैदा हुई नाराजगी का परिणाम सरकारों को भुगतना पड़ा। कर कानून के जानकारों के मुताबिक, “ऐसा शायद पहली बार हुआ है कि एक विशाल देश में जीएसटी लागू करने वाली सरकार को लोगों ने दोबारा चुना है।” ऑस्ट्रेलिया में जॉन हॉवर्ड सरकार जीएसटी लागू होने के बाद हुए 1998 के आम चुनाव में बहुमत से पीछे रह गई थी। कनाडा में 1993 में हुए आम चुनाव में प्रधानमंत्री किम कैंपबेल की सरकार जीएसटी लागू करने की वजह से हार गई थी। सिंगापुर में 1994 में जीएसटी लागू किया गया था। इससे वहां तेजी से महंगाई बढ़ी और सरकार को जनता का गुस्सा झेलना पड़ा।

जीएसटी कम करने का मिला फायदा
कर कानून के जानकारों के मुताबिक ऐसा शायद पहली बार हुआ है कि एक विशाल देश में जीएसटी लागू करने वाली सरकार को लोगों ने दोबारा चुना है। राजनीतिक कारणों से उन्होंने अपना नाम बताने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार ने महंगाई पर नियंत्रण बनाए रखा और उद्योग की मांगों पर सक्रियता से काम किया। जाहिर है कि मोदी सरकार ने एक जुलाई 2017 को जीएसटी लागू किया जोकि एक अप्रत्यक्ष करों में एक बड़ा बदलाव था और इसके बाद अधिकांश वस्तुओं और सेवाओं की लागत घट गई, जिससे दुनिया में भारत एक प्रतिस्पर्धीअर्थव्यवस्था बन गया है।

Leave a Reply