Home समाचार विपक्ष के नेता कई मौकों पर कर चुके हैं कार्यकर्ताओं से बदतमीजी

विपक्ष के नेता कई मौकों पर कर चुके हैं कार्यकर्ताओं से बदतमीजी

208
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पैनी नजर ने NCP प्रमुख शरद पवार की उस हरकत को देख ली, जिसे शायद उस रैली में आए लोग भी नहीं देख पाएं। शरद पवार द्वारा अपने एक कार्यकर्ता को उनके साथ फोटो खिंचवाने के दौरान कोहनी मारकर पीछे कर दिया। विपक्षी पार्टियों के नेताओं द्वारा अपने कार्यकर्ताओं, आमजनों और रिपोर्टरों को अपमानित करने का यह कोई पहला मामला नहीं है। कांग्रेस व विपक्ष के कई नेता या फिर उनके समर्थक कई मौकों पर लोगों को अपमानित कर चुके हैं।

प्रियंका गांधी के समर्थकों ने रिपोर्टर से की धक्कामुक्की

उत्तर प्रदेश की दौरे पर गई कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने अनुच्छेद 370 पर सवाल किया तो उन्होंने जवाब नहीं दिया और फिर प्रियंका गाधी ने समर्थकों ने रिपोर्टर को पकड़कर धमकाने की कोशिश की। रिपोर्टर ने प्रियंका गांधी से गुहार लगाई लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई। 

कांग्रेसी नेता सिद्धारमैया ने अपने कार्यकर्ता को जड़ा थप्पड़

कर्नाटक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धारमैया का एक वीडियो कुछ दिनों पहले इंटरनेट पर खूब वायरल हुआ था। वीडियो में कांग्रेस नेता अपने साथ चल रहे एक युवक को थपड़ मारते दिख रहे हैं। वीडियो के वायरल होने के बाद सिद्धारमैया की खासी आलोचना हुई थी। 

सिद्धारमैया ने एक महिला का दुपट्टा खींचकर की बदतमीजी

सिद्धारमैया ने इससे पहले भी पार्टी की एक महिला कार्यकर्ता से बदसलूकी करते हुए कैमरे पर कैद हुए थे। उस दौरान महिला स्थानीय विधायक की शिकायत लेकर उनके पास आई थी। पीड़ित महिला उनसे जवाब चाहती थी। इस दौरान सिद्धारमैया इतने गुस्सा हो गए थे कि उन्होंने महिला के हात से माइक छीनने के साथ-साथ उसका दुपट्टा भी खींच लिया था।

शिवपाल यादव ने मंच पर की कार्यकर्ता से बदसलूकी

इसी तरह समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता और  संयुक्त प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने इसी तरह मंच पर से पार्टी के एक कार्यकर्ता को धका दिया था। समाजवादी पार्टी का यह कार्यकर्ता अखिलेश यादव के समर्थन में अपनी बात कह रहा था तभी नाराज होकर शिवपाल यादव ने उसे धक्का दे दिया और माइक से हटा दिया। 

 

Leave a Reply