Home चटपटी जब राहुल गांधी बन गए मदारी, खड़गे को बना लिया जमूरा

जब राहुल गांधी बन गए मदारी, खड़गे को बना लिया जमूरा

165
SHARE

डम्-डम्-डम्…. डम्-डम्-डम्….. डम्-डम्-डम्….. डम्-डम्-डम्
मदारी राहुल “मेहरबान…. कदरदान… साहेबान”
डम्-डम्-डम्…. डम्-डम्-डम्….. डम्-डम्-डम्….. डम्-डम्-डम्
“आज हम आपको राफेल डील में हुए घोटाले का खेल दिखाएगा”
डम्-डम्-डम्…. डम्-डम्-डम्….. डम्-डम्-डम्….. डम्-डम्-डम्
मदारी राहुल गांधी– “जमूरे खड़गे, आज जनता को राफेल घोटाले के बारे में बताएगा???”
जमूरे खड़गे– “बताएगा”
मदारी राहुल गांधी– “कैसे बताएगा जब घोटाला हुआ ही नहीं”
जमूरे खड़गे– “हम झूठ बोलेगा, एक बार नहीं बार-बार बोलेगा, सौ बार बोलेगा”
मदारी राहुल गांधी– “जमूरे खड़गे तुझे पता नहीं जनता अब जाग चुकी है, तेरे झूठ पर भरोसा कौन करेगा???”
जमूरे खड़गे– “उस्ताद, झूठ नहीं बोलेगा तो मंजन कैसे बिकेगा??”
मदारी राहुल गांधी– “जमूरे खड़गे तुझे पता है, 2014 में देशभर में मजमा लगाने के बाद सिर्फ 44 पुड़िया मंजन ही बिके थे।”
जमूरे खड़गे– “उस्ताद इस बार देशभर में 4 पुड़िया भी बिक जाए तो खुदा का शुक्र मनाना”
राहुल मदारी– “जमूरे खड़गे, मंजन बेचने का हमारे पास एक ही रास्ता है”
जमूरे खड़गे– “क्या उस्ताद?”
राहुल मदारी– “देश भर के सभी छोटे बड़े मदारियों को इकट्ठा करना पड़ेगा, फिर हम सब साथ मिलकर मजमा लगाएगा।”
जमूरे खड़गे– “उससे क्या होगा उस्ताद??”
राहुल मदारी– “जब देशभर के मदारी मिलकर झूठ बोलेगा तो जनता बहकावे में आ जाएगी। 2004 और 2009 की तरह इस बार भी हमारा इटली मार्का मंजन का जादू चलेगा, हम मुनाफा कमाएगा, हिन्दुस्तान से मुनाफा कमाकर नानी के घर इटली जाएगा।”
जमूरे खड़गे– “उस्ताद तुम जिन मदारियों को इकट्ठा करने की बात कह रहा है वो दगे हुए कारतूस हो चुके हैं, कोई घोटाला कर जेल में है तो कोई मुसलमानों की दीदी बनकर हिन्दुओं पर अत्याचार कर रही है। कोई जबरन चंदा मांग रहा है। अब हिन्दुस्तान की जनता मदारी के खेल की सच्चाई जान चुकी है।”
मदारी राहुल– “जमूरे खड़गे, क्या तू मुझे डरा रहा है”
जमूरे खड़गे– “डरा नहीं रहा उस्ताद, जाग चुके हिन्दुस्तान का आईना दिखा रहा है”
मदारी राहुल– “जमूरे खड़गे तू अपनी सोच मैं तो नानी के घर चला जाऊंगा, पहले के बेचे मंजन से इतने कमा चुका हूं कि हमारी कई पीढ़ी खाएगी”
जमूरे खड़गे– “उस्ताद क्यों खाली पीली मजाक करता है, तुम्हारी कई पीढ़ी कहां से आएगी, वैसे भी तेरे नकारेपन से कोई लड़की तुझसे शादी को तैयार नहीं”
मदारी राहुल– “मैं नानी के घर ही लड़की खोजेगा, वहीं शादी रचाएगा, मम्मी को भी उनके अपने देश ले जाएगा।”
जनता- मार इसको….. पकड़ इसको…. अर्रे ये चोर हैं चोर….
राहुल मदारी– “जमूरे पोटली छोड़ के भाग नहीं तो जनता बहुत मारेगी”

एक दो तीन… नौ दो ग्यारह…..

LEAVE A REPLY