Home विशेष सुकमा हमले के नक्सलियों के संपर्क में थीं नंदिनी सुंदर और बेला...

सुकमा हमले के नक्सलियों के संपर्क में थीं नंदिनी सुंदर और बेला भाटिया!

1562
SHARE
नंदिनी सुंदर

 

वामपंथी दलों और कथित मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का असली चेहरा देश के सामने आने लगा है। छत्तीसगढ़ के सुकमा में पिछले 24 अप्रैल को हुए हमले में शामिल एक नक्सली ने यह स्वीकार किया है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर नंदिनी सुंदर और मानवाधिकार कार्यकर्ता बेला भाटिया कई बड़े नक्सली नेताओं के संपर्क में थीं।

सुकमा हमले में शामिल नक्सली पोडियम पांडा ने कई अहम खुलासे किए हैं। इसी महीने नौ मई को सरेंडर करने वाले पांडा ने नक्सलियों से संपर्क रखने वाले कई लोगों के नाम का खुलासा भी किया है। पांडा ने स्वीकार किया है कि वो दक्षिण बस्तर में बड़े नक्सली के साथ नंदिनी सुंदर और बेला भाटिया के बीच संपर्क का अकेला लिंक था। पांडा ने माना है कि वो नंदिनी सुंदर और बेला भाटिया को मोटरसाइकल पर बिठा कर सुकमा के जंगलों में रमन्ना, हिडमा जैसे बड़े नक्सलियों से मिलाने ले जाता था।

बेला भाटिया

नवभारत टाइम्स अखबार में छपी खबर के अनुसार पांडा नक्सलियों के अंदर के कैडर और दिल्ली, रायपुर व अन्य शहरों के नेटवर्क सिस्टम के बीच बतौर लिंक काम कर रहा था। पुलिस को दिए बयान में उसने माना कि वह बुरकापाल घटना में शामिल था और सीआरपीएफ के जवानों पर हमला किया था। पांडा 2010 के ताड़मेटला हत्याकांड में भी शामिल था जिसमें 75 जवानों की मौत हो गई थी। पुलिस ने बताया कि पांडा से माओवादियों के शहरी नेटवर्क के बारे में अहम जानकारी मिली है। इसमें दिल्ली में प्रभावशाली लोगों से माओवादियों के लिए की गईं बैंक के लेनदेन बतौर सबूत शामिल हैं। पंडा ने जंगल में नक्सलियों के कई बड़े ठिकाने समेत दूसरे खुलासे भी किए हैं।

मानवाधिकार के नाम पर नक्सली गतिविधियों में शामिल कथित कार्यकर्ताओं के खिलाफ पुलिस को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। बताया जाता है कि देश के कुछ कथित बुद्धिजीवी देश के खिलाफ लड़ाई छेड़ने वालों को धन मुहैया कराते हैं। उन्हें हथियार देते हैं और भड़काते हैं। देश में अस्थिरता फैलाने के लिए इन लोगों को विदेशों से भी भारी मदद मिलती है।

पोडियम पांडा

आपको पता होना चाहिए कि नंदिनी सुंदर पत्रकार सिद्धार्थ वरदराजन की पत्नी हैं। द हिंदू के पूर्व संपादक सिद्धार्थ द वॉयर नाम से वेबसाइट भी चलाते हैं। छत्तीसगढ़ पुलिस के दस्तावेज में नंदिनी सुंदर का नाम हत्या के एक मामले में दर्ज है।

Leave a Reply